Pehchan Faridabad
Know Your City

गूगल पर लगा चाइना के एप्स के समर्थन का आरोप, लोगो ने सोशल मीडिया पर लिखा कि…

लॉक डाउन के दौरान बीते 2 महीनों से सोशल मीडिया पर कई कंट्रोवर्शियल ड्रामे देखने को मिले। इस दौरान कभी YouTubeVsTiktok देखने को मिला तो कभी Tiktok पर हिंसा को बढ़ावा देने वाले वीडियो के कारण लोगो में Tiktok के प्रति नफरत लोगो में दिखी।

लेकिन अभी जो मामला पूरे सोशल मीडिया पर छाया हुआ है वो गूगल प्ले स्टोर के प्रति लोगो में बढ़ते गुस्से को लेकर है। सोशल मीडिया पर लोग आरोप लगा रहे है की गूगल चाइना को बचाने के लिए गलत तरीके से उसका समर्थन कर रहा है और भारतीयों द्वारा चलाए जा रहे Boycott चाइना मिशन को फैल करने में लगा हुआ है।

आइए समझाते है पूरा मामला :-

बात YoutubeVsTiktok के ड्रामे से शुरू हुई जिसमें कई बड़े YouTubers ने Tiktok बनाने वालो का मजाक बनाते हुए उन पर रोस्ट वीडियो बनाए। TikTok वाले अपने बचाव में आए तो यह ड्रामा और बड़ा हुआ और CarryMinati की वीडियो आने के बाद यह ड्रामा चरम पर पहुंच गया।

जबतक CarryMinati की वीडियो अाई तब तक तो सब ठीक था लेकिन जैसे ही YouTube द्वारा बिना कोई उचित कारण दिए उस वीडियो को डिलीट किया तो लोगो का गुस्सा Tiktok के प्रति फुट पड़ा। उसके बाद tiktok बनाने वालो के कुछ ऐसे वीडियो सामने आए जिनमे पाया गया वे महिलाओं के प्रति होने वाले अपराध को बढ़ावा दे रहे है। जिसके बाद इस मामले में कानून को भी दखल देना पड़ा।

इन सब के बीच लोगो में Tiktok के प्रति नफरत भी चरम पर पहुंचा और लोगो ने Tiktok का चीन कनेक्शन फिट करते हुए जमकर tiktok का विरोध शुरू किया। जिसके बाद tiktok की रेटिंग 4.8 से गिरकर 1.2 तक पहुंच गई।

लेकिन हुआ यूं गूगल प्लेस्टरे द्वारा tiktok की छवि को सुधारने के लिए करीब 80 लाख रिव्यू डिलीट कर दिए गए, जिसके बाद लोगो की tiktok बैन किए जाने की मांग और उसकी रेटिंग गिराने की मेहनत पर पानी फिर गया।

उसके बाद सोशल मीडिया पर मित्रों नाम का ऐप ट्रेंड हुआ जिसे लोगो ने हिन्दुस्तानी tiktok बता कर जमकर शेयर किया और फिर से चाइना के tiktok ऐप का बहिष्कार कर भारतीय ऐप को अपनाए जाने की मुहिम सोशल मीडिया पर जमकर ट्रेंड हुई।

जैसे ही यह एप सोशल मीडिया पर ट्रेंड हुई, देखते ही देखते कुछ ही समय में इसके कई मिलियन डॉउनलोड पूरे हो गए। लेकिन जैसे ही playstore पर यह ऐप ट्रेंड करना शुरू हुआ तो गूगल द्वारा इस ऐप को playstore से हटा दिया गया।

वही अभी हाल ही में Chinese app remover नाम से एक ऐप सोशल मीडिया पर वायरल हुआ जिसके जरिए फोन में इंस्टॉल सभी चाइनीज ऐप को डिटेक्ट कर उन्हें हटाया जा सकता था। ये ऐप भी जैसे ही सोशल मीडिया पर ट्रेंड हुई तो गूगल द्वारा इस ऐप को भी playstore से हटा दिया गया।

अब लोगो का गुस्सा YouTube , Tiktok, Google और playstore पर बरस रहा है, सोशल मीडिया पर लोगो का कहना है कि गूगल चाइना की छवि को सुधारने के लिए भारत में चलाए जा रहे चाइना विरोधी अभियान पर पानी फेर रहा है और भारतीय ऐप को हटा रह है।

इस समय #Playstore एवं कई अन्य हैसटैग सोशल मीडिया पर इस दौरान वायरल हो रहे है जिसमें playstore पर चाइना कि छवि को सुधारने के आरोप लगाते हुए लोग जमकर गूगल के खिलाफ गुस्सा निकाल रहे है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More