HomeGovernmentआमजन का असमंजस कैसे हो दूर, जब बॉर्डर सील करने बावजूद आवागमन...

आमजन का असमंजस कैसे हो दूर, जब बॉर्डर सील करने बावजूद आवागमन हुआ सुगम

Published on

कोरोना वायरस के कारण लोगो को अनेको असुविधा हो रही हैं आम जन जीवन अस्त व्यस्त कर दिया गया हैं और कोई भी व्यक्ति इस बात से अछूता नहीं है कि संक्रमण दिनोंदिन काल बनकर आमजन के जनजीवन को अस्त-व्यस्त करने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ रहा है।

इसके अलावा रही सही कसर जो बाकी है उसे देश के नेता बखूबी अपने प्रयास से जनजीवन के लिए परेशानियों का अंबार खड़ा कर पूरा करने में लग रहे हैं।

आमजन का असमंजस कैसे हो दूर, जब बॉर्डर सील करने बावजूद आवागमन हुआ सुगम

हम बात कर रहे हैं हरियाणा के बीजेपी मनोहर लाल खट्टर सरकार और दिल्ली जो की भारत की राजधानी है उसके मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की। दरअसल, इन नेताओं सहित देशभर के नेता यही चाहते हैं कि उनके राज्य में यह संक्रमण जितना जल्दी हो सके खत्म हो जाए।

इसके लिए हर राज्य के नेता दिन प्रतिदिन अपने आदेशों में फेरबदल कर रहे हैं ताकि कोरोनावायरस के संक्रमण की चेन को तोड़ा जा सके और जल्द ही इस संक्रमण नामक काल से अपने देश को बचाया जा सके। चलिए यह तो रही देश हित की बात इसमें सुधार करना इन नेताओं के हाथ में तो होता है।

आमजन का असमंजस कैसे हो दूर, जब बॉर्डर सील करने बावजूद आवागमन हुआ सुगम

लेकिन राज्यों के बीच यह खीच तान जनता के लिए परेशानी का सबब बनती जा रही है, और बने भी क्यों ना। आए दिन इन नेताओं के मूड परिवर्तन के बारे में आमजन के जीवन में परेशानियों की बौछार होती जा रही है लेकिन उधर नेताओं को अपनी राजनीति के अलावा कुछ सूझे तो ही इन आमजन के ऊपर उनका ध्यान केंद्रित हो।

जैसा कि सबसे पहले हरियाणा सरकार ने अपने राज्य में संक्रमण को रोकने के लिए दिल्ली से आने वाले हर व्यक्ति के लिए हरियाणा से लगते सभी बॉर्डर को सील कर दिया था।

आमजन का असमंजस कैसे हो दूर, जब बॉर्डर सील करने बावजूद आवागमन हुआ सुगम

दिल्ली का कोई भी व्यक्ति हरियाणा पा ना कर सके और ना ही हरियाणा का कोई व्यक्ति दिल्ली की सीमा लांघ सके। इसके बाद जब दिल्ली हाईकोर्ट ने इस मामले में हस्तक्षेप किया तो हरियाणा सरकार को अपना फैसला बदलना पड़ा और उन्होंने ईपास का माध्यम लेकर दिल्ली में आवागमन को सुचारू कर दिया।

वहीं अब दिल्ली सरकार ने 1 सप्ताह के लिए दिल्ली के साथ लगते सभी बॉर्डर को सील कर दिए है, यह सब होता देख हरियाणा सरकार पीछे रहती तो हरियाणा सरकार ने भी मंगलवार को हरियाणा के सभी बॉर्डर को सील कर दिया। इस बीच आमजन अभी भी असमंजस में है कि बॉर्डर सील होने के बावजूद बॉर्डर पर लोगों का आवागमन सुगम कैसे हैं?

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...