HomePublic Issueदिन में आग उगलता है आसमान ,रात भर आंख मिचौली खेलती है...

दिन में आग उगलता है आसमान ,रात भर आंख मिचौली खेलती है लाइट

Published on

फरीदाबाद : एक तरफ़ सूरज की तपन ने लोगो को पसीना पसीना किया हुआ है और दूसरी तरफ बिजली ने जिलेवासियो की नाक में दम कर रखा है । आसमान ने जैसे आग बरसाना शुरू किया वैसे ही बिजली विभाग ने अपने रंग दिखाने शुरू कर दिए , साथ ही विभाग पर पूरे शहर को बिजली देने का लोड बढ़ना शुरू हो गया । अब जैसे ही लोड बढ़ा तो जिले में चार -चार घँटे के अघोषित पॉवर कट लगने शुरू चालू हो गए, शहर में जगह-जगह तार जलना भी लगातार जारी रहा. अब बेचारी जनता करे तो करे क्या?

अब समस्या एक यह भी है की मौसम आये दिन खराब हो जाता है जिससे आधी आने का सिलसिला भी शुरू हो जाता है और उसके बाद बारिश, अब जैसे ही बारिश की चंद बूंदों ने धरती को छुआ बिजली फिर से गुल,अब सब तरफ अंधेरा। साथ ही आंधी ने शहर में आधे ट्रांसफर जला कर रख दिए हैं, जिससे बिजली की आपूर्ति नही की जा रही है ।

दिन में आग उगलता है आसमान ,रात भर आंख मिचौली खेलती है लाइट

अब गर्मी की तपन से परेशान शिकायतकर्ता बिजली विभाग में लगातार फोन करके पूछते हैं कि लाइट कब आएगी ? तो हर बार जवाब आता है की अभी काम चल रहा है जल्दी लाइट आ जाएगी । उसके बाद भी लंबे इंतजार के बाद लाइट आती है ।

फरीदाबाद के बल्लभग़ढ क्षेत्र की बात की जाये तो सुभाष कॉलोनी, विष्णु कॉलोनी ,हरी विहार, लाल कोठी, कृष्णा कॉलोनी, एजी कॉलोनी , सेक्टर 62 सेक्टर 63., सेक्टर 64, साहपुरा, जाजरू लोग बिजली ना आने के करांण खासा परेशांन है

दिन में आग उगलता है आसमान ,रात भर आंख मिचौली खेलती है लाइट

सेक्टर 62 की रहनी वाली मंजरी का कहना है कि दिन भर लाइट नही आती है घर के पंखे ऐ.सी फ्रिज लाइट सब बंद रहते है इन्वर्टर तो है घर मे लेकिन ज्यादा देर तक लाइट ना होने के कारण वो भी चार्ज नही हो पाता है कभी कभी लाइट नही होने कारण फ्रिज बंद रहता है

जिससे उसमे रखा सामान खराब हो जाता है । बच्चो को पढ़ने में दिक्कत आती है घर के बुर्जुग भी लाइट ना आने के कारण दुखी हैं । एक तो गर्मी दुखी करती है ऊपर से लाइट ज्यादा दुखी करती है ।

दिन में आग उगलता है आसमान ,रात भर आंख मिचौली खेलती है लाइट

इस बारे में अधीक्षण अभियंता नरेश कक्कड़ का कहना की मेरे अंडर 588 फीडर है जो पूर्ण रूप से काम कर रहे है हमारी तरफ किसी भी प्रकार की कोई कमी नहीं है लेकिन आये दिन आंधी तूफ़ान आने के कारण के बिजली के तार जल जाते है ।

दिन में आग उगलता है आसमान ,रात भर आंख मिचौली खेलती है लाइट

वही पेड़ो की बढ़ी टहनिया भी तारो में उलझती है कभी कभी उनको कांटने के लिए बिजली का कट किया जाता है जब भी आंधी आती है तो पेड़ो के गिरने का डर बना रहता है यदि कोई पेड़ गिर गया तो पावार कट 20 घंटे तक का हो सकता है इसलिए समय समय पर इन बातों का ध्यान रखा जाता है

बिजली उपभोक्ताओं का कहना है हर बार भारी भरकम बिल की भरमार रहती है हजारों में बिल का भुकतान किया जाता है लेकिन फिर भी बिजली का उपयोग गर्मी में विभाग के अनुसार करना पड़ता है ।

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...