Homeशादी के 35 साल बाद भगवान ने भर दी झोली, 55 साल...

शादी के 35 साल बाद भगवान ने भर दी झोली, 55 साल की महिला ने दिया 3 बच्चों को जन्म

Published on

55 साल की उम्र में एक महिला ने 3 बच्चों को जन्म दिया है। जब कोई महिला पहली बार मां बनती है तो वह समय उसकी जिंदगी का सबसे हसीन पल होता है। मां को हर इंसान की पहली गुरु माना जाता है। एक मां ही होती है जो संतान में संस्कारों का बीज रोपण करती हैं। महिला की शादी को 35 साल हो चुके हैं और तभी से उनको बच्चे की चाह थी लेकिन अब वो मां बनी हैं। खास बात ये है कि भले उनको बच्चे के लिए तीन दशक से ज्यादा इंतजार करना पड़ा लेकिन अब एक साथ उनके तीन बच्चे हुए हैं। 55 साल की सिसी ने 22 जुलाई को तीन बच्चों को जन्म दिया है।

जिन महिलाओं को पहली बार मां बनने का सौभाग्य प्राप्त होता है उनकी खुशी का अनुमान कोई भी नहीं लगा सकता है। शादी के 30 साल से ज्यादा गुजर जाने के बाद भी इस कपल को कोई बच्चा नहीं था। मां अपने बच्चों की दुख, परेशानियां और उनके मन की आवाज बिना बताए ही सुन लेती हैं।

शादी के 35 साल बाद भगवान ने भर दी झोली, 55 साल की महिला ने दिया 3 बच्चों को जन्म

ऐसी बहुत सी महिलाएं भी हैं जिनको शादी के कई सालों बाद भी संतान सुख की प्राप्ति नहीं हो पाती है। 55 साल कि सिसी ने अपनी खुशी का इजहार करते हुए कहा कि आखिरकार उन्हें अपनी प्रार्थनाओं का जवाब मिल गया। 55 साल की सिसी और 59 साल के उनके पति जॉर्ज एंटनी काफी खुश हैं। सिसी का कहना है कि उनके पास भगवान का शुक्रिया अदा करने को शब्द नहीं हैं। आखिरकार उन्हें अपनी प्रार्थनाओं का जवाब मिल गया। हम एक बच्चे के लिए बरसों से प्रार्थना कर रहे थे लेकिन अब हमें जुड़वाभी नहीं बल्कि 3 बच्चे गॉड ने दिए हैं।

शादी के 35 साल बाद भगवान ने भर दी झोली, 55 साल की महिला ने दिया 3 बच्चों को जन्म

संतान की लालसा में पति-पत्नी अक्सर कई मंदिरों और धार्मिक स्थलों पर जाकर माथा टेककर मन्नतें मांगते हैं। सिसी के तीनों बच्चे स्वस्थ हैं। सिसी ने 2 बेटों और एक बेटी को जन्म दिया। डिलीवरी के कुछ दिन बाद सिसी को अस्पताल से छुट्टी भी मिल गई। जब कोई महिला पहली बार मां बनती है तो वह समय उसकी जिंदगी का सबसे हसीन पल होता है। मां बनने का सुख एक मां ही समझ सकती है।

शादी के 35 साल बाद भगवान ने भर दी झोली, 55 साल की महिला ने दिया 3 बच्चों को जन्म

भगवान सच्चे मन से की गई प्रार्थना को जरूर पूरा करता है। समाज में बिना बच्चों के किसी महिला का रहना काफी मुश्किल होता है। ऐसी बहुत सी महिलाएं भी हैं जिनको शादी के कई सालों बाद भी संतान सुख की प्राप्ति नहीं हो पाती है।

Latest articles

“नशा मुक्त भारत पखवाडा” के अन्तर्गत फरीदाबाद पुलिस कर रही सराहनीय कार्य, नशा तस्करों की धरपकड़ के साथ-साथ चलाए जा रहे जागरूकता अभियान

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के आदेश, पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में फरीदाबाद...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अन्तर्गत अपराध शाखा बॉर्डर की टीम ने 532 ग्राम गांजा सहित आरोपी को किया गिरफ्तार

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अंतर्गत नशे पर प्रहार करते हुए 520 ग्राम गांजा सहित आरोपी को अपराध शाखा DLF की टीम ने किया...

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्ग दर्शन में...

More like this

“नशा मुक्त भारत पखवाडा” के अन्तर्गत फरीदाबाद पुलिस कर रही सराहनीय कार्य, नशा तस्करों की धरपकड़ के साथ-साथ चलाए जा रहे जागरूकता अभियान

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के आदेश, पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में फरीदाबाद...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अन्तर्गत अपराध शाखा बॉर्डर की टीम ने 532 ग्राम गांजा सहित आरोपी को किया गिरफ्तार

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अंतर्गत नशे पर प्रहार करते हुए 520 ग्राम गांजा सहित आरोपी को अपराध शाखा DLF की टीम ने किया...

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्ग दर्शन में...