HomeLife StyleHealthरिकवरी रेट में दिल्ली के बाद अब हरियाणा का नाम दर्ज

रिकवरी रेट में दिल्ली के बाद अब हरियाणा का नाम दर्ज

Published on

इस बात में कोई दो राय नहीं है कि देशभर में अब कोरोना वायरस के मामले तेजी से रफ्तार पकड़ रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ राहत भरी खबर यह है कि कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज भी तेजी से इस वायरस को मात देकर एक स्वस्थ जीवन की ओर अग्रसर हो रहे हैं।

वहीं अब दिल्ली के बाद हरियाणा राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के ठीक होने की रिकवरी रेट 80% से भी अधिक हो चुकी है। इसका अर्थ यह है कि दिल्ली के बाद हरियाणा दूसरे राज्य में शामिल हो गया है जिसमें कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज अब तेजी से इस वायरस को हराने में कामयाब हो रहे हैं।

रिकवरी रेट में दिल्ली के बाद अब हरियाणा का नाम दर्ज

गौरतलब, दिल्ली में संक्रमित मरीजों की रिकवरी रेट 89.57 दर्ज की गई है। वहीं हरियाणा में 2 अगस्त तक 81.32 प्रतिशत की रिकवरी रेट दर्ज किया गया। सोमवार शाम को जारी राज्य कोविद बुलेटिन के अनुसार हरियाणा की रिकवरी दर 81.97 प्रतिशत रही। जबकि राष्ट्रीय औसत 65.4 प्रतिशत था।

सोमवार शाम तक, भिवानी जिले ने 95.31 प्रतिशत की वसूली दर दर्ज की, इसके बाद गुड़गांव में 89.80 प्रतिशत और फरीदाबाद में 88.38 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई। सोनीपत जिले में भी 87.73 प्रतिशत रिकवरी दर दर्ज की गई, इसके बाद झज्जर (87.16 प्रतिशत), अंबाला (81.75 प्रतिशत), पलवल (81.80 प्रतिशत), और नूंह (88.47 प्रतिशत) का स्थान रहा। हालांकि, कुछ जिलों में पंचकूला (47.47 प्रतिशत) सहित रिकवरी की दर कम थी।

सोमवार को स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन में हरियाणा राज्य में कुल 654 नए मामले दर्ज किए गए वही इस वायरस से अपनी जान गवाने वाले मरीजों में 7 मरीजों को शामिल किया गया। अभी तक पूरे राज्य में 37,173 मामले कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के दर्ज किए गए हैं 440 लोग पूरे राज्य में स्वागत सबकी जान गवा चुके हैं। पिछले 24 घंटों में मरने वाले सात मरीजों में चार पानीपत में, दो कुरुक्षेत्र में और एक भिवानी में है।

हरियाणा में अब पॉजिटिव केसों की अपेक्षा ठीक होने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। हर रोज रोगियों के ठीक होने से रिकवरी दर भी बढ़ रही है। आज भी हरियाणा में 780 रोगियों को ठीक करके घर भेजा गया है। आज पहली फरीदाबाद में कोरोना को बड़ा झटका लगा हैं। स्वास्थ्य विभाग ने 412 रोगियों को एक साथ ठीक करके डिस्चार्ज किया है। अब फरीदाबाद में 932 एक्टिव मरीज बचे हैं।

पूरे बात का निष्कर्ष निकाले तो इसका अर्थ यह है कि जिस तरह कोरोना वायरस तेजी से अपने संक्रमण को फैलाकर आमजन को अपनी गिरफ्त में ले रहा था। उसी तरह स्वास्थ्य विभाग की कड़ी मेहनत के बाद अब कोरोना वायरस को हराने में कामयाबी हासिल हो रही है।

बस जरूरत है अब लोग को ज्यादा से ज्यादा जागरूक होकर इस वायरस से बचने के लिए सावधानी बरतें रहने की, ताकि जल्द से जल्द बाकी बचे अन्य मरीजों को भी ठीक करके इस वायरस को अपने जिले राज्य से हमेशा हमेशा के लिए खत्म किया जा सके।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...