HomeTrendingसास ससुर ने बेटे की मौत के बाद अनोखे तरीके से किया...

सास ससुर ने बेटे की मौत के बाद अनोखे तरीके से किया अपनी विधवा बहू का पुनर्विवाह

Published on

एक सास ससुर ने बेटे की मौत के बाद अनोखे तरीके से किया अपनी बहू का पुनर्विवाह। कोरोना वायरस के कारण लागू हुए लॉकडाउन में केंद्र सरकार ने शादी विवाह के लिए 50 लोगों की मंजूरी दे दी है। इसका अर्थ है कि सोशल डिस्टेंस का ध्यान रख और फेस मास्क इत्यादि पहनकर शादी समारोह का कार्यक्रम आयोजित किया जा सकता है।

जहां दूल्हा-दुल्हन एक तरफ मास्क पहने हुए नजर आते हैं वही सोशल डिस्टेंसिंग ने शादी विवाह को एक खास कार्यक्रम जैसा बना दिया है।

लॉकडाउन के दौरान एक अनोखी शादी देखने को मिली है जहां सास ससुर ने अपने विधवा बहू को बेटी का दर्जा देकर उसे पूरी रीति-रिवाजों और धूमधाम से विदा किया है। दरअसल सोनम जिसके पति का निधन कुछ समय पहले ही हुआ था।

अब सास सरला जैन और ससुर ऋषभ जैन ने अपनी बहू का दूसरा विवाह करने का फैसला लेते हुए सोनम का पुनर्विवाह बेहद खास तरीके से किया।


ससुर ऋषभ के अनुसार सोनम और उनके बेटे मोहित जैन की शादी आठ साल पहले हुई थी। वहीं शादी के तीन साल सब सही रहा। लेकिन बाद में मोहित को कैंसर होने की बात सामने आई। जिसके बाद उसकी मौत हो गई। बुरे समय में सोनम ने मोहित की खूब सेवा की और अपना पत्नी होने का धर्म निभाया।

8 साल पहले भी विवाह के बंधन में बंध चुकी थी सोनम

मोहित की मौत के बाद सोनम एकदम अकेली हो गई थी। जिसके बाद मोहित के माता पिता ने सोनम की शादी दोबारा से करवाने का फैसला किया।

सोमन का रिश्ता सौरभ जैन के साथ पक्का किया गया जो कि नागदा का रहना वाला है। हालांकि शादी की तारीख तय होने के बाद देश में लॉकडाउन लग गया। जिसके बाद दोनों परिवार वालों ने इनकी शादी को तय समय पर ही करवाने का फैसला किया। इन दोनों की शादी करवाने के लिए नागदा में होटल बुक किया गया था। लेकिन लॉकडाउन के चलते होटल में ये विवाह नहीं हो सका।


लॉकडाउन की वजह से ये विवाह घर से ही करने का फैसला लिया गया और मोहित के मामा ललित कांठेड़ ने प्रशासन से शादी करवाने की अनुमति ली। अनुमति मिलने के बाद मोहित के मामा के घर में ये शादी की गई। शादी के दौरान मोहित के माता पिता ने सारी रस्मों को निभाया और सोनम को बेटी की तरह घर से विवाद किया।

सोनम के पहले ससुराल आई उसके दूसरे पति की बारात

सास सरला जैन ने सोनम की शादी पर कहा कि हमने अपनी बहू की शादी इसलिए कराई क्योंकि हमारी उम्र हो चली है। लेकिन बहू की उम्र तो बाकी है। हमारे चले जाने के बाद बहू अपनी जिंदगी को अकेले कैसे काटती। हमने अपनी बहू को बेटी के रूप में विदा किया।

लॉकडाउन के नियमों का ख्याल रख हुई शादी संपन्न

सोनम की शादी के समय लॉकडाउन के नियमों का भी पालन किया गया और इस खुशी के मौके पर केवल करीबी लोगों को ही बुलाया गया। वहीं शादी के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन किया गया और शादी में आए लोगों ने दूरी बनाकर ही ये विवाह देखा। वहीं विवाह होने के बाद खुशियों के साथ बहू को विदा किया गया।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...