Pehchan Faridabad
Know Your City

महात्मा गांधी जयंती पर आखिर क्यों फरीदाबाद के पूर्व डिप्टी मेयर मुकेश शर्मा ने किया विरोध प्रदर्शन

2 अक्टूबर महात्मा गांधी व श्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती के उपलक्ष्य में एनआईटी-86 के विधायक पंड़ित नीरज शर्मा के बडे भाई श्री मुकेश शर्मा पूर्व उप-महापौर नगर निगम फरीदाबाद के नेतृत्व में सैकड़ों लोगों ने काले मास्क पहनकर अपना विरोध दर्ज कराया व हाथरस में गुड़िया के साथ हुए बलात्कार और नंगला एंक्लेव में 7 वर्षीय बेटी के साथ हुए दुष्कर्म के विरोध में 2 मिनट का मौन रखकर पीड़िता के इंसाफ के लिए पैदल मार्च किया।

श्री मुकेश शर्मा पूर्व उप-महापौर नगर निगम फरीदाबाद ने कहा कि भाजपा सरकार में कानून का नहीं बल्कि गुंडों, बदमाशों, माफियाओं, बलात्कारियों एवं अन्य अराजक तत्वों का राज चल रहा है। यहां की कानून व्यवस्था पूरी तरह से दम तोड़ चुकी है। खासकर इस सरकार में यहां की बहन-बेटियां बिलकुल सुरक्षित नहीं है। हाथरस पीड़िता गुड़िया को पहले सुरक्षा नहीं मिलती है, फिर इलाज नहीं मिलता लेकिन शर्म कि बात है कि फिर उसे अंतिम संस्कार तक नहीं करने दिया जाता और जबरदस्ती जला दिया जाता है।

श्री मुकेश शर्मा पूर्व उप-महापौर नगर निगम फरीदाबाद ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं को हाथरस जाने से रोके जाने तथा उन पर लाठियां चलाने और गिरफ्तार करने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि बीजेपी सरकार में जंगलराज है तथा पुलिस अधिकारी तानाशाह जैसा काम कर रही है और यह अहंकारी सरकार की लाठियां पीड़िता को न्याय दिलाने से नहीं रोक सकती है। राहुल गांधी और प्रिंयका गांधी से बीजेपी सरकार डरी-सहमी हुई है इसलिए गलत तरीके से बर्ताव किया गया है। कांग्रेस पीड़ित परिवार के साथ है और न्याय के लिए लड़ेगी।

हाथरस पीड़िता गुड़िया और नंगला एंक्लेव में 7 वर्षीय बेटी साथ हुए दुष्कर्म के विरोध में रामेहर प्रधान, गिर्राज सरपंच, रोहताश नैन, धर्मवीर मलिक,जय प्रकाश गुलिया,तुलाराम शास्त्री, ललित शर्मा, राजकुमार, हरबीर मावी, कन्हैया लाला वशिष्ठ, देवदत्त पडिंत, सुरेन्द्र दहिया, अहसान कुरेशी, इकबाल कुरैशी, सुरेश पडित,महेश शर्मा, सत्यप्रकाश,साहब सिंह पांचाल,राजू सिंह, नेपाल सारन,सचदेव,शिव दत्त शर्मा,नानक चंद प्रजापति,दामौदर,कैलाश शर्मा,मनोज अरोडा, अनीशपाल सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More