Pehchan Faridabad
Know Your City

समुद्र सेतु मिशन का अगला चरण हुआ आरम्भ,विदेशों में फंसे नागरिक आएंगे भारत

समुद्र सेतु मिशन का अगला चरण आरम्भ,विदेशों में फंसे नागरिक आएंगे भारत

भारतीय नौसेना ने विदेशों से भारतीय नागरिकों को वापस लाने के लिए ऑपरेशन ‘समुद्र सेतु’ 08 मई 2020 से भारतीय नागरिकों का निकासी अभियान शुरू किया था | कोरोना महामारी के चलते दूसरे देशों में फंसे भारतीयों को वापस लाने के लिये समुद्र सेतु अभियान का दूसरा चरण एक जून यानी कि आज से शुरू होगा

शनिवार को नौसेना की एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया है कि इस चरण में नौसेना का जलश्व जहाज श्रीलंका के कोलंबो से 700 लोगों को तमिलनाडु के तूतीकोरीन लेकर पहुंचेगा । बाद में माले, मालदीप से तूतीकोरिन, तमिलनाडु के लिए अन्य 700 लोगों को स्वदेश लाया जाएगा । नौसेना ने कहा कि श्रीलंका और मालदीव में भारतीय मिशन उन भारतीय नागरिकों की सूची तैयार कर रहे हैं, जिन्हें लाया जाएगा।

चिकित्सा जांच के बाद उन्हें लाने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी । नौसेना ने कहा कि इस ऑपरेशन को विदेश मंत्रालय, गृह मंत्रालय, स्वास्थ्य मंत्रालय और भारत सरकार की अन्य एजेंसियों और राज्य सरकारों के निकट समन्वय में आगे बढ़ाया जा रहा है।

इससे पहले इस अभियान के पिछले चरण में नौसेना 1,488 भारतीयों को मालदीप से कोच्चि लेकर आई थी | वह 1488 भारतीय 22 राज्यों से संबंधित हैं जिनमें 205 महिलाएं (133 गर्भवती) और 38 बच्चे शामिल हैं | इनमें सबसे ज्यादा 1101 नागरिक केरल से हैं | तमिलनाडु से 283, आंध्र प्रदेश से 10, पश्चिम बंगाल से 12, उत्तराखंड के 9, तेलंगाना के 12, कर्नाटक के 10, लक्षद्वीप के 7, दिल्ली-झारखण्ड के 6-6, हिमाचल-महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश के 5-5, राजस्थान के 4, हरियाणा के 3, मध्य प्रदेश-ओडिशा-पुद्दुचेरी के 2-2 यात्री हैं। इसके अलावा असम, चंडीगढ़, गोवा, पंजाब के एक-एक यात्री हैं।

कोरोना के संकट में विदेशों में फसे लोगों को इस बात की जानकारी मिल गयी है कि, अपने वतन से सुरक्षित कोई और वतन नहीं अपने वतन से बेहतर कोई और वतन नहीं | संकट की इस घडी में हर कोई अपने वतन आना चाहता है अपनों के साथ रहना चाहता है |

भारत ने पूरी दुनिया में फैले कोरोना वायरस की वजह से अलग-अलग देशों में फंसे भारतीय नागरिकों को स्वदेश लाने का फैसला किया है | इसके तहत सरकार ने ‘वंदे भारत’ और ‘समुद्र सेतु’ नाम से मिशन भी शुरू किए हैं और अब तक इन मिशन के तहत हज़ारों लोगों को स्वदेश लाया जा चुका है |

क्या है समुंद्र सेतु मिशन और वंदे भारत मिशन – कोरोना महामारी के पीछे विदेशों में फसे भारतियों को सरकार ‘वंदे भारत’ मिशन के तहत हवाई जहाजों के जरिए भारतीयों को वापस ला रही है | वहीं ‘समुद्र सेतु मिशन’ के जरिये समुद्र के रास्ते से लोगों को स्वदेश लाया जा रहा है | सरकार इस मिशन के तहत 2 लाख भारतियों विदेशों से वापस लाना चाहती है |

जानकारी के मुताबिक आज श्री लंका से समुद्र सेतु जहाज भारतीय नागरिकों को लेकर निकल चुका है । ये भारत के लिए एक अच्छी खबर है ।

ओम सेठी

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More