Homeचाणक्य के अनुसार भूलकर भी किसी दूसरे को न बताए ये राज,...

चाणक्य के अनुसार भूलकर भी किसी दूसरे को न बताए ये राज, वरना हो सकता है बड़ा नुकसान

Array

Published on

चाणक्य नीति में आचार्य चाणक्य ने जीवन से जुड़ी कई बातों का जिक्र किया है। आचार्य चाणक्य की नीतियों में हर परेशानी का समाधान मिलता हैं और जीवन की हर चुनौती में आचार्य चाणक्य की नीति सर्वश्रेष्ठ मानी जाती हैं। चाणक्य ने कई बातें बताई हैं जिसे हमेशा ही व्यक्ति को राज ही रखनी चाहिए। तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि वो कौन सी बातें हैं जो दूसरों से कभी भी नहीं बतानी चाहिए तो आइए जानते हैं।

चाणक्य, विदुर और गंगापुत्र भीष्म नीति शास्त्र के महान विद्वानों में से रहे हैं। निजी जीवन से लेकर आर्थिक मामलों तक आचार्य चाणक्य ने कई उपाय और बातें बताई हैं। आचार्य चाणक्य की नीतियों के अनुसार कहा गया हैं कि हमें कभी भी धन के नुकसान की बात किसी अन्य व्यक्ति को नहीं बतानी चाहिए। इसे राज ही रखना चाहिए। धन के नुकसान होने पर आपकी मदद कोई नहीं करेगा।

चाणक्य के अनुसार भूलकर भी किसी दूसरे को न बताए ये राज, वरना हो सकता है बड़ा नुकसान

इनके नीति और जीवन से संबंधित ज्ञान भारत ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में प्रसिद्ध हैं। हमेशा इस बात की कोशिश करनी चाहिए कि अपने पैसों के नुकसान की चर्चा अन्य से भूलकर भी नहीं करना चाहिए। अक्सर ही लोग अपनी परेशानियों की चर्चा किसी दूसरे से कर देते हैं हमें इससे बचना चाहिए। अगर हम अपने दुख को दूसरों के साथ शेयर करते हैं तो दूसरे लोग इस बात का मजाक भी बना सकते हैं।

चाणक्य के अनुसार भूलकर भी किसी दूसरे को न बताए ये राज, वरना हो सकता है बड़ा नुकसान

आपको हमेशा ऐसे लोगों से सावधान रहना चाहिए, जो आपके विषय में खोद खोद कर पूछताछ करते हों। वही पुरुषों को कभी भी अपनी पत्नी की नेगिटिव बातों के बारे में किसी दूसरे व्यक्ति को नहीं बताना चाहिए। ऐसा करने से वह मनुष्य आप का मजाक बना सकता हैं और भविष्य में आपको परेशानी उठानी पड़ सकती हैं। अगर किसी मूर्ख व्यक्ति की वजह से आपको अपमान का सामना करना पड़े तो इस बारे में भी किसी दूसरे व्यक्ति को नहीं बतानी चाहिए। इससे आपकी प्रतिष्ठा में कमी आ सकती हैं।

चाणक्य के अनुसार भूलकर भी किसी दूसरे को न बताए ये राज, वरना हो सकता है बड़ा नुकसान

आचार्य चाणक्य कहते हैं कि इंसान को खुद से जुड़ी कुछ बातों को कभी भी किसी से शेयर नहीं करना चाहिए। अगर कोई आपकी शक्ति, कमजोरी और बैकग्राउंड जानने की कोशिश करे, तो समझ जाएं कि वो आपका अहित चाहता है।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...